चैतन्य शर्मा

My photo
मैं चैतन्य एक बहुत अच्छा बच्चा हूँ | मैं 9 साल का हूँ | मुझे ड्राइंग-कलरिंग करना बहुत पसंद है | मैं क्लास V में पढ़ता हूँ और माँ को कभी परेशान नहीं करता | मुझे डांस करना बेहद पसंद है | स्कूल में मुझे सब बहुत पसंद करते हैं | यह ब्लॉग 5 साल पहले मेरी माँ डॉ. मोनिका शर्मा ने बनाया था । अब मैं खुद अपने पोस्ट ब्लॉग पर शेयर करता हूँ । इस ब्लॉग पर मैं अपनी सारी बातें शेयर करूंगा |

Saturday, October 9, 2010

हे माँ .... प्रणाम

सबसे पहले तो सबको नवरात्री की हार्दिक शुभकामनायें....... इन दिनों चारों और नवरात्री उत्सव की धूम है | कहीं डांडिया रास तो कहीं पूजा और जागरण | सभी लोग माता की भक्ति में डूबे हैं | मैंने भी कल नवरात्री स्थापना पर माँ के दर्शन किये | नौ दिनों के लिए  मेरी ममा  भी व्रत कर रहीं हैं | इसलिए रोज सुबह घर में भी माता की पूजा होती है |   बड़ा ही अच्छा लग रहा है मुझे यह सब | हम सब अपनी माँ को कितना प्यार करते हैं, उनका मान करते हैं..... फिर दुर्गा माँ तो पूरे संसार की माँ हैं | आप भी देखिये कैलगिरी का वो मंदिर जहाँ मैंने भी माँ को नमन किया.... और उनका आशीर्वाद लिया |



ये  रहा.... मंदिर
 


कितनी सुंदर माँ की मूरत.....


मैं भी टीका लगा लेता हूँ.....



कई देवता विराजे हैं यहाँ......
 

हे माँ..... कृपा बनाये रखना.....!





अरे..... वो देखो गणपति बप्पा भी हैं.... !
 


इन चरणों से अच्छा क्या है...?
 

आप भी करें इनके दर्शन.....!



यूं सिन्दूर  से सजी माँ की मूरत.....
 

21 comments:

Akshita (Pakhi) said...

माँ की मूरत तो सबसे अच्छी. नवरात्र की शुभकामनायें.

रावेंद्रकुमार रवि said...

----------------------------------------
माँ अवश्य ही सब पर कृपा बनाए रखेंगी!
----------------------------------------

प्रवीण पाण्डेय said...

बहुत सुन्दर चैतन्यजी।

Vijai Mathur said...

Chaitanya,
Devi maa ki tumhari bhakti dekhi.yah Durga darasal Bharat mata hain.unke sher unke sapoot arthat sabhi bharatwasi hain -yad rakhna.

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) said...

नवरात्रों की शुभकामनाएँ!
--
आपकी सुन्दर पोस्ट री चर्चा तो बाल चर्चा मंच पर भी लगाई गई है!
http://mayankkhatima.blogspot.com/2010/10/22.html

चैतन्य शर्मा said...

@ पाखी सच में पाखी माँ की मूरत बहुत सुंदर लगती है.....


@ रवि अंकल... बस यही प्रार्थना है मेरी भी.....


@ प्रवीण अंकल.... धन्यवाद अंकल

रानीविशाल said...

वाह ! बहुत सुन्दर ....आपको भी नवरात्रों की हार्दिक शुभकामना !!
अनुष्का

माधव( Madhav) said...

बहुत अच्छी बात और सुन्दर संस्कार
शुभकामनायें

Pankhuri Times said...

चैतन्य भैया आपको भी नवरात्रि की बधाई.मैं भी घूमने निकलने वाली हूँ . फिर सब कुछ सबसे शेयर करूँगी.

चैतन्य शर्मा said...

@ मयंक अंकल

धन्यवाद आपका ..... चर्चा मंच पर मेरी पोस्ट की बात करने के लिए आभार


@ विजय अंकल

आपने तो बहुत ही सुंदर बात कही.... आभार आपका


@अनुष्का

@माधव

@पंखुरी

थैंक्स... आप सब दोस्तों को भी नवरात्री की शुभकामनायें

Chinmayee said...

नवरात्री की शुभकामनायें....... मुझे भी नवरात्री पसंद है पिचले साल मुंबई में थी तो बहुत डंडिया खेला था .... इस साल सिर्फ फोटोस देख रही हू:( ..

चैतन्य शर्मा said...

मैं भी मिस कर रहा हूँ हमारा फेस्टिवल सीज़न...... तुम्हे भी नवरात्री की शुभकामनायें

sada said...

बहुत ही सुन्‍दर चित्र एवं प्रस्‍तुति, नवरात्रि की ढेर सारी शुभकामनायें,
आपका लाडली पर प्रथम आगमन अच्‍छा लगा ।

Akshita (Pakhi) said...

नवरात्र और दशहरा...धूमधाम वाले दिन आए...बधाई !!

संजय भास्कर said...

नवरात्र और दशहरा...धूमधाम वाले दिन आए...बधाई !!

विरेन्द्र सिंह चौहान said...

आपको भी नवरात्त्र और दशहरा पर शुभकामनाएँ .......
माँ का आशीर्वाद हमेशा आप पर बना रहे.
मनमोहक चित्रों से सुसज्जित इस बहुत ही सुंदर पोस्ट के
लिए आपको आभार और ढेर सारा प्यार..... ....

चैतन्य शर्मा said...

@ सदा आंटी
आपको भी शुभकामनायें.... अब आता रहूँगा....

@ पाखी
@ संजय भैया
बिलकुल सही यह धूमधाम वाले ही दिन हैं.....

वीरेन्द्र भैया
आपको भी शुभकामनायें .....
मेरे ब्लॉग पर आने के लिए थैंक्स

कृतिका चौधरी said...

बहुत खूब चैतन्‍य, मां आपकी कामनाएं पूरी करे

चैतन्य शर्मा said...

thanks Kritika.... ap mere blog par aayeen...

shikha kaushik said...

chaitany-aapke dwara prastut 'ma!' ki jhaki bahut sundar hai.ma ke chhote se bhakt se milkar bahut khushi hui.hamesha aise hi gulab ki tarah mahkte raho!

Surendrashukla" Bhramar" said...

चैतन्य जी बहुत सुन्दर दर्शन कराया आप ने मन करता है माँ के दर्शन को बार बार आया जाये अच्छा हुआ अंत में आप हमारी तरफ देखे नहीं तो भाव बिभोर ही हो गए थे न ??
घर में पूजा के साथ कौन से मंदिर का दर्शन कराया ये भी तो बताइए न ...
जय माता दी
सुरेन्द्र कुमार शुक्ल भ्रमर ५

Post a Comment

There was an error in this gadget