चैतन्य शर्मा

My photo
मैं चैतन्य एक बहुत अच्छा बच्चा हूँ | मैं 9 साल का हूँ | मुझे ड्राइंग-कलरिंग करना बहुत पसंद है | मैं क्लास V में पढ़ता हूँ और माँ को कभी परेशान नहीं करता | मुझे डांस करना बेहद पसंद है | स्कूल में मुझे सब बहुत पसंद करते हैं | यह ब्लॉग 5 साल पहले मेरी माँ डॉ. मोनिका शर्मा ने बनाया था । अब मैं खुद अपने पोस्ट ब्लॉग पर शेयर करता हूँ । इस ब्लॉग पर मैं अपनी सारी बातें शेयर करूंगा |

Wednesday, September 22, 2010

बुद्धू , गधा , पागल कहेंगें.... तो नहीं सहेंगें



बुद्धू ,  गधा , बदमाश , पागल..... आपको पता है हम सारे बच्चे कई बार सोचते हैं की मेरे यह सब नाम क्यों ? हमें बहुत दुःख होता है जब कई बार घर के लोग और बाहर के भी हमें ऐसे नाम से पुकारते है | सबको यह थोड़ी अजीब लगेगी क्योंकि हम बच्चे सबका नाम रिस्पेक्ट से लें ऐसा तो सभी चाहते हैं पर हमारा नाम कैसे लिया जाय कोई नहीं सोचता | अभी कुछ दिन पहले मेरे एक दोस्त के पापा ने बर्थ डे पार्टी में सबके  सामने उसे गधा कहा :(  पता है   कितना  मूड  ऑफ हो गया था उसका  | मैंने घर आकर माँ से भी पूछा की क्या मेरा फ्रेंड गधा है ? घर के सब लोग कितनी प्यार से  हमारा नाम रखते हैं | उस दिन बड़ा सा फंक्शन भी करते  हैं | हमसे  कोई  छोटी  सी  गलती  भी  हो  जाए  तो  ऐसा कुछ सुनने को मिलता है | प्लीज़  सड़क पर , पार्क में , स्कूल के फ्रेंड्स के सामने और घर में  कही  भी  हमारा नाम इस  तरह से न ले  हमें  अच्छा नहीं लगता  |  मुझे तो बहुत ही बुरा लगता है जब कोई ऐसे पुकारता है |

16 comments:

रावेंद्रकुमार रवि said...

----------------------------------------
इसीलिए तो मैं आप सबको अपना दोस्त कहता हूँ,
क्योंकि मुझे लगता है कि बच्चे अपने आपको
बच्चा कहलाना भी पसंद नहीं करते!

----------------------------------------

चैतन्य शर्मा said...

सही बात रवि अंकल... आप तो बच्चो के मन की बात समझते हैं

कितनी अच्छी बात

रंजन said...

अरे इतनी बुरी बात.... सही कहा..

प्यार..

चैतन्य शर्मा said...

हाँ रंजन अंकल ऐसा तो कई बार होता है..... :(

Saba Akbar said...

Baat to bilkul sahi kah rahe ho aap.
---------------
Photo to bahut smart wali lagayi hai aapne..

प्रवीण पाण्डेय said...

कभी ऐसे नहीं बुलाना चाहिये। यदि ऐसा करते हैं तो गलत करते हैं।

ज़ाकिर अली ‘रजनीश’ said...

बिलकुल, ये सब अब नहीं चलेगा।

Chinmayee said...

हम... ये तो बहुत अच्छी बात कही है .... येसा कभी नहीं होना कहिये बड़े तो समझदार होते है थोडा उन्हें भी सोचना चाहिए !

JHAROKHA said...

Bhai ye to galat tha---apne apne blog par likh kar ham sabhi ko sochne par majboor kar diya.

चैतन्य शर्मा said...

@ सबा आंटी...थेंक्स

@प्रवीण अंकल ... हाँ न बहुत गलत है..

@ जाकिर अंकल... हाँ अंकल क्यों चले.....?

@चिन्मयी वो ही तो.....

@झरोखा .... हाँ आंटी ऐसा नहीं होना चाहिए न.......

Pankhuri Times said...

यू आर राइट चैतन्य भैया, आपकी पंखुरी सही बात पर हमेशा आपके साथ है और दुनिया के सारे बच्चे भी !

Akshita (Pakhi) said...

ये तो बहुत सही बात कही....

_________________________
'पाखी की दुनिया' में- डाटर्स- डे पर इक ड्राइंग !

Akanksha~आकांक्षा said...

वाह, नन्हें मुख से इत्ती अच्छी बात....प्यार व शुभकामनायें.

चैतन्य शर्मा said...

@ Pankhuri
@Akshita
@Akanksha aunty

Thanks to all of u....

Vinod said...

Chetanya ham bhi aapake sath h kyo ki aapaki mammy ko pata h ki ham bhi bachapan me ye sab jhel chuke h. remind to bhuaaji( Musal, Mundlo, mingno and Dadi)she will tell you.
Rohit Jangid

Vinod Kumar said...

Chetanya mere comments par Bhuaji ka reaction kya hua hoga?
me batau?
At first she smiled and...................i can't say u will laugh.

Post a Comment

There was an error in this gadget