चैतन्य शर्मा

My photo
मैं चैतन्य एक बहुत अच्छा बच्चा हूँ | मैं 9 साल का हूँ | मुझे ड्राइंग-कलरिंग करना बहुत पसंद है | मैं क्लास V में पढ़ता हूँ और माँ को कभी परेशान नहीं करता | मुझे डांस करना बेहद पसंद है | स्कूल में मुझे सब बहुत पसंद करते हैं | यह ब्लॉग 5 साल पहले मेरी माँ डॉ. मोनिका शर्मा ने बनाया था । अब मैं खुद अपने पोस्ट ब्लॉग पर शेयर करता हूँ । इस ब्लॉग पर मैं अपनी सारी बातें शेयर करूंगा |

Friday, April 8, 2011

कुछ बातें ......!

उनके  साथ अचानक पूरा देश उठ खड़ा हुआ | एक बार फिर उन्होंने  साबित कर दिया की  शांत और  सच्चे  तरीके से भी कोई लड़ाई लड़ी जा सकती है | आज की पोस्ट में शामिल हैं कुछ बातें अन्ना हजारे और वो जिस बिल को पास करवाने की लड़ाई लड़ रहे हैं उसके के विषय में |  यह बातें  बच्चों और बड़ों सबको  पता होनी चाहियें |  यह पोस्ट को मैं आनंद राठौर अंकल के ब्लॉग से लेकर आया हूँ | आप सबके साथ शेयर के लिए  ताकि हम सभी इन बातों को जाने | देश में कुछ बदलाव लाने की लड़ाई लड़ रहे  इस महान व्यक्तित्व के साथ हम सब हैं |
पढ़ने के लिए इमेज पर क्लिक करें...............



उनकी कोशिश का पहला कदम कामयाब हुआ ........उन्हें  सलाम  

16 comments:

संजय भास्कर said...

अन्ना तुम आगे बढ़ो, हम तुम्हारे साथ हैं

संजय भास्कर said...

पहले भगाया गोरों को अब भगाएंगे चोरो को

some unspoken words said...

hum ladai jeet gaye.jan lokpal bill pass ho gaya :)

प्रवीण पाण्डेय said...

नेता तुम्ही हो कल के।

सुज्ञ said...

बडा अच्छा!! जो आपनें हमें पढवाया।

यशवन्त माथुर said...

बहुत बढ़िया चैतन्य!

G.N.SHAW said...

very good chaitany.

Anand Rathore said...

wah ..mere chote anna...shabash... khoob padho.. khoob badho... hum sab tumhare saath hain...

सुधीर said...

jay ho anna

मदन शर्मा said...

उनकी कोशिश का पहला कदम कामयाब हुआ ........उन्हें सलाम

Dr Varsha Singh said...

सही विवेचना ....बहुत बढ़िया पोस्ट.

दर्शन कौर धनोए said...

चेतन्य बेटे सबसे पहले तो बधाई ग्रहण करो !पूछो किसलिए ? तो आज आपका दोस्तों का कोटा 100 पर पहुच चूका है धन्यवाद !

प्रतुल वशिष्ठ said...

.

चलो चैतन्य बेटे को, आज़ के युग में एक ऐसा व्यक्ति तो मिला जिसे वह पढ़ना पसंद करता है.
नहीं तो, लाल बहादुर शास्त्री जी के बाद से, ये जाति विलुप्त ही हो गयी थी.
अचानक भारी भ्रष्टाचार की गंदगी के बीच जन्मे इस कमल-पुरुष 'अन्ना' ने जिस लोकपाल ब्रह्मा को पैदा किया है
वह आने वाले समय में निरंकुश मंत्रियों की सृष्टि पर अंकुश लगाएगा.

.

Patali-The-Village said...

बहुत बढ़िया चैतन्य, उनकी कोशिश का पहला कदम कामयाब हुआ|

abhi said...

सब इनके साथ हैं..

Suman said...

nanhe dost,bahut badhiya..........

Post a Comment

There was an error in this gadget