चैतन्य शर्मा

My photo
मैं चैतन्य एक बहुत अच्छा बच्चा हूँ | मैं 9 साल का हूँ | मुझे ड्राइंग-कलरिंग करना बहुत पसंद है | मैं क्लास IV में पढ़ता हूँ और माँ को कभी परेशान नहीं करता | मुझे डांस करना बेहद पसंद है | स्कूल में मुझे सब बहुत पसंद करते हैं | यह ब्लॉग 5 साल पहले मेरी माँ डॉ. मोनिका शर्मा ने बनाया था । अब मैं खुद अपने पोस्ट ब्लॉग पर शेयर करता हूँ । इस ब्लॉग पर मैं अपनी सारी बातें शेयर करूंगा |

Sunday, May 22, 2011

आई ललललव.... डायेनासोर्स.....!

पिछले  कुछ   दिनों  से  मुझे  डायेनासोर्स बहुत अच्छे लगने लगे हैं |  मेरी हर चीज़ में डायेनासोर्स का होना ज़रूरी हो गया है |   टॉय बॉक्स में अचानक  बहुत से  डायेनासोर आ गए हैं...... मेरा मतलब है डायेनासोर खिलौने | आजकल जहाँ भी जाता हूँ जो भी खरीदता हूँ उस पर डायेनासोर बना होना ज़रूरी है | बुक्स , कपड़े, जूते,  पेन्सिल , इरेज़र , हर चीज़ पर डायेनासोर्स छाये हुए हैं |

टी- शर्ट पर डायेनासोर बहुत ज़रूरी



मेरे कुछ डायेनासोर टॉय......


डायेनासोर प्रिंटेड पेन्सिल्स



डायेनासोर शेप लिए एरेज़र्स....


  मेरा स्टाइल मंत्रा ......आई ललललव डायेनासोर्स
                                              
                                         
और भी बहुत कुछ है...... .........सब कुछ डायेनासोर्स लिए...... जो मुझे आजकल ख़ूब भा रहे हैं.....!

33 comments:

शालिनी कौशिक said...

are chaitanya kya kar rahe ho bahut khatarnak hote hain ye tumhe rat me sone nahi denge.ha!ha!ha!

: केवल राम : said...

डायनासोर हाँ जो अब नहीं हैं ...आपको अच्छे लगते हैं....तस्वीरें अच्छी हैं.......!

शिखा कौशिक said...

be careful Chaitanya.ha!ha!ha!

Rakesh Kumar said...

चैतन्य जी आप तो सच्चे हैं
अभी डायनासोर आपको लगते अच्छे है,क्यूंकि अभी आप बच्चे हैं.
'जय श्री राम' जब आप कहें तो और भी अच्छे लगतें हैं.
'कृष्ण' 'राम' के बालरूप के हम आपमें दर्शन करते है.
आप मेरे ब्लॉग पर आते हैं तो मेरे ब्लॉग को पवित्र कर देतें हैं.

Shah Nawaz said...

ओह्ह बचके रहना रे बाबा... :-)

बढ़िया चित्र... और आपके डायनासोर वाले खिलौने तो और भी बढ़िया लगे...

Patali-The-Village said...

बहुत सुन्दर जी| फोटो भी बहुत सुन्दर|

यशवन्त माथुर (Yashwant Mathur) said...

बहुत बढ़िया दोस्त!!!

Love-

प्रवीण पाण्डेय said...

अब तो आप से बचकर रहना होगा, इतने खतरनाक दोस्त जो हैं आपके।

सुज्ञ said...

आप तो भीमकाय स्टाइल-बाज है!!

anshumala said...

डायनासोर अच्छे है और आप की टी शर्ट भी | हमारी बिटिया तो हेना मोंटेना और प्रीसेस के पीछे ही भागती है |

ज़ाकिर अली ‘रजनीश’ said...

Ye to sachmuch bade pyare hain.

............
खुशहाली का विज्ञान!
ये है ब्लॉग का मनी सूत्र!

Maheshwari kaneri said...

डायनासोर का अच्छा संग्रहलय सजाया है । बहुत अच्छा ।

Kashvi Kaneri said...

डायनासोर ही डायनासोर इतने सारे ? कुछ मुझे भी दे दो…………

दर्शन कौर धनोए said...

Kyaa kahne beta chetny !!!Lovli

डॉ. नागेश पांडेय "संजय" said...

सुन्दर प्रस्तुति .

कल था सृजन का जन्म दिन . बाल मंदिर में पढ़िए जन्म दिन आपको मुबारक हो

http://baal-mandir.blogspot.com/

smshindi By Sonu said...

डायनासोर ही डायनासोर इतने सारे क्या बात है चैतन्य जी

Sawai Singh Rajpurohit said...

कहाँ खो गये ऐसे डायनासोर? प्रिय चैतन्य बाबा

Sawai Singh Rajpurohit said...
This comment has been removed by the author.
Sawai Singh Rajpurohit said...

प्रिय चैतन्य वाह... पोस्ट करने का अंदाज़ पसंद आया. बधाई स्वीकारें..

chirag said...

bachpan kd in kaafi acche hote hain
main kai bar donal duck,spider man k compass box kharidata tha
and dinosaur ki film to mujhe kaafi acchi lagti thi....
kash vo din fir aa jaye

रावेंद्रकुमार रवि said...

यह तो बहुत अच्छी बात है!

Vijai Mathur said...

पहले दर रहे थे अब काफी सकारात्मक परिवर्तन कर लिया बहुत अच्छा किया.

गौरव शर्मा "भारतीय" said...

चैतन्य जी ये तो बड़ी अच्छी बात बताई आपने........आपको डायनासोर पसंद है और हमें आप पसंद है !!
वाकई चैतन्य के ब्लॉग में आकर ऐसा अनुभव होता है जैसे बचपन के दिन फिर से लौट आये हों..........प्रिय चैतन्य को उसके उज्जवल भविष्य के लिए ढेर सारी शुभकामनायें !!

Surendrashukla" Bhramar" said...

चैतन्य जी जरा बच के बाबा इतना भारी भरकम पेन्सिल रबर पर तो ठीक है लेकिन आप के पेट पर ...??? दौड़ने लगेगा तो नाक में छेद कर नकेल तो डाल लो न !!

ह हा हां

शुक्ल भ्रमर ५

Chinmayee said...

क्या इशस्टाइल है .....:)
मुझे तो बहुत पसंद आये है Chaitanyaa and his Bucketfull of Dinosaurs

G.N.SHAW said...

चैतन्य बहुत ही सुन्दर पसंद ! ऐसे ही लम्बी छलांग जीवन में पूर्ण कीजिये !

मदन शर्मा said...

प्रिय चैतन्य को उसके उज्जवल भविष्य के लिए ढेर सारी शुभकामनायें !!

Babli said...

बहुत सुन्दर तस्वीरें हैं! बहुत प्यारे लग रहे हैं आप! मुझे तो डायेनासोर बेहद पसंद हैं!

सुनैना अवस्थी said...

प्रिय चैतन्य वाह... बधाई .

मैंने भी अपनी बाल कविताओं का एक ब्लाग बनाया है . समय मिले तो आप देखिएगा . सुनैना अवस्थी

http://sunainaawasthi.blogspot.com/

घनश्याम मौर्य said...

अलग अलग उम्र, अलग अलग शौक। मेरा बेटा महज तीन साल का है, लेकिन उसे कहीं भी जाते समय परफ्यूम डालकर जाना पसंद है। ऐसा न करने पर वह जिद करने लगता है।

Suman said...

आपकी टीशर्ट बहुत अच्छी है !
डायनासोर के सभी खिलौने भी :)

Jyoti Mishra said...

I must say
Wat a choice :D
u r cho chweet !!

चैतन्य शर्मा said...

आप सबके प्यारे कमेट्स के लिए थैंक यू........

Post a Comment

There was an error in this gadget