चैतन्य शर्मा

My photo
मैं चैतन्य एक बहुत अच्छा बच्चा हूँ | मैं 9 साल का हूँ | मुझे ड्राइंग-कलरिंग करना बहुत पसंद है | मैं क्लास IV में पढ़ता हूँ और माँ को कभी परेशान नहीं करता | मुझे डांस करना बेहद पसंद है | स्कूल में मुझे सब बहुत पसंद करते हैं | यह ब्लॉग 5 साल पहले मेरी माँ डॉ. मोनिका शर्मा ने बनाया था । अब मैं खुद अपने पोस्ट ब्लॉग पर शेयर करता हूँ । इस ब्लॉग पर मैं अपनी सारी बातें शेयर करूंगा |

Wednesday, August 22, 2012

सदा फुदकती रहना गौरैया

हमारे आँगन में चहकने-फुदकने वाली गौरैया को हाल ही में राजधानी दिल्ली का राजकीय पक्षी बनाया गया है । यह नन्ही चिड़िया अब हमारे आस-पास कम ही दिखती  है । स्पैरो यानि कि गौरैया को बचाने के लिए अब 'सेव स्पैरो ' नाम से एक मुहीम भी छेड़ी गयी है । हम सबको कोशिशें करनी होंगीं कि यह नन्ही चिड़िया सदा फुदकती रहे ।  





प्यारी गौरैया





चहकती रहना गौरैया

30 comments:

DrZakir Ali Rajnish said...

बहुत सुंदर भाव।

हार्दिक शुभकामनाएं।

............
डायन का तिलिस्‍म!
हर अदा पर निसार हो जाएँ...

Smart Indian - स्मार्ट इंडियन said...

सुन्दर चित्र! चहकती रहे गौरय्या!

रविकर फैजाबादी said...

गौरैया के स्वर सुने, हृदय प्रफुल्लित होय |
उच्च उच्चतर उच्चतम, प्रेरित कर सब कोय |
प्रेरित कर सब कोय, सरल सा सीधा जीवन |
रहे स्वयं में मगन, फुदकती द्वारे आँगन |
पड़ी प्रदूषण मार, घटे है सोन चिरैया |
हो दिल्ली चैतन्य, सुरक्षित हो गौरैया ||

संतोष त्रिवेदी said...

चैतन्य और गौरैया के लिए शुभकामनाएँ !

प्रवीण पाण्डेय said...

असली सी लगती गोरैया..

विजय राज बली माथुर said...

चैतन्य आपका प्रयास उत्तम है और चित्रकारी भी।

यशवन्त माथुर (Yashwant Mathur) said...

बहुत बढ़िया दोस्त!

यशवन्त माथुर (Yashwant Mathur) said...

कल 24/08/2012 को आपकी यह बेहतरीन पोस्ट http://nayi-purani-halchal.blogspot.in पर लिंक की जा रही हैं.आपके सुझावों का स्वागत है .
धन्यवाद!

शिखा कौशिक 'नूतन ' said...

nice post

Reena Maurya said...

nice colouring bro:-)
save bird
save sparrow
good msg:-)

ऋता शेखर मधु said...

बहुत बढ़िया !!
संदेश भी और चित्रकारी भी !!

Maheshwari kaneri said...

बहुत बढ़िया !!चैतन्य तुम्हे और तुम्हारी गौरैया को हार्दिक शुभकामनाएं...

Suman said...

चित्र बहुत सुंदर है और सन्देश भी,
बहुत बहुत शुभकामनायें दोस्त !

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) said...

वाह क्या कहने..
बहुत सुन्दर प्रस्तुति!
शुभाशीष..नन्हे दोस्त!

रविकर फैजाबादी said...

उत्कृष्ट प्रस्तुति बुधवार के चर्चा मंच पर ।।

Neha Mathews said...

Good!

प्रतिभा सक्सेना said...

गौरैया की चहक ,जैसे खुशी की एक लहर !

Virendra Kumar Sharma said...

गौरैया के स्वर सुने, हृदय प्रफुल्लित होय |
उच्च उच्चतर उच्चतम, प्रेरित हो सब कोय |
प्रेरित कर सब कोय, सरल सा सीधा जीवन |
रहे स्वयं में मगन, फुदकती द्वारे आँगन |
पड़ी प्रदूषण मार, घटे है सोन चिरैया |
हो दिल्ली चैतन्य, सुरक्षित हो गौरैया || जी हाँ चैतन्य भाई ! पक्षी पर्यावरण की नव्ज़ को ,टूटते पारितंत्र को ताड़ वहां से उड़ जातें हैं ,फिर लौट के वह नहीं आतें हैं ...नन्ने हाथ बड़ी मंजिल बड़ी बात ..कृपया यहाँ भी पधारें -
Neck Pain And The Chiropractic Lifestyle
Neck Pain And The Chiropractic Lifestyle

Reducing symptoms -correcting the cause.

गर्दन में दर्द होने पर अमूमन आप दवाओं की शरण में चले आतें हैं लेतें हैं आप एस्पिरिन ,तरह तरह के अन्य दर्द नाशी ,विशेष पैन पिल्स ,इस दर्द के लक्षणों के शमन के लिए लेतें हैं आप मसल रिलेक्सर्स ,मालिश ,हॉट पेक्स .

लेकिन गर्दन में दर्द की वजह न तो एस्पिरिन की कमी बनती और न अन्य दवाओं की . http://kabirakhadabazarmein.blogspot.in/

Virendra Kumar Sharma said...

गौरैया के स्वर सुने, हृदय प्रफुल्लित होय |
उच्च उच्चतर उच्चतम, प्रेरित हो सब कोय |
प्रेरित कर सब कोय, सरल सा सीधा जीवन |
रहे स्वयं में मगन, फुदकती द्वारे आँगन |
पड़ी प्रदूषण मार, घटे है सोन चिरैया |
हो दिल्ली चैतन्य, सुरक्षित हो गौरैया || जी हाँ चैतन्य भाई ! पक्षी पर्यावरण की नव्ज़ को ,टूटते पारितंत्र को ताड़ वहां से उड़ जातें हैं ,फिर लौट के वह नहीं आतें हैं ...नन्ने हाथ बड़ी मंजिल बड़ी बात ..कृपया यहाँ भी पधारें -
Neck Pain And The Chiropractic Lifestyle
Neck Pain And The Chiropractic Lifestyle

Reducing symptoms -correcting the cause.

गर्दन में दर्द होने पर अमूमन आप दवाओं की शरण में चले आतें हैं लेतें हैं आप एस्पिरिन ,तरह तरह के अन्य दर्द नाशी ,विशेष पैन पिल्स ,इस दर्द के लक्षणों के शमन के लिए लेतें हैं आप मसल रिलेक्सर्स ,मालिश ,हॉट पेक्स .

लेकिन गर्दन में दर्द की वजह न तो एस्पिरिन की कमी बनती और न अन्य दवाओं की .
ram ram bhai
शुक्रवार, 24 अगस्त 2012
आतंकवादी धर्मनिरपेक्षता
"आतंकवादी धर्मनिरपेक्षता "-डॉ .वागीश मेहता ,डी .लिट .,1218 ,शब्दालोक ,अर्बन एस्टेट ,गुडगाँव -122-001

आतंकवादी धर्मनिरपेक्षता

राजनीतिक लफ्फाज़ फैला रहें हैं भ्रम ,

कि आतंकवादी का नहीं होता कोई धर्म ,


अभिप्राय : है यही और यही है संकेत ,

कि आतंकवादी होता है धर्मनिरपेक्ष .

धन्य है सरकार ,क्या खूब बहका रही है ,

आतंकवाद का क्या ,धर्मनिरपेक्षता तो बढ़ा रही है .http://veerubhai1947.blogspot.com/

Dr. sandhya tiwari said...

बहुत सुन्दर ............गौरैया अब कहाँ आँगन में फुदकती दिखती है

Anupama Tripathi said...

वाह ..सुंदर रंग और सुंदए भाव भी ...!!

Mamta Bajpai said...

सुन्दर भाव है ....सच में आजकल शहरों के घरों में
इनके लिए माकूल जगह नहीं होती

"रुनझुन" said...

बहुत सही कहा चैतन्य...हमें छोटी, प्यारी, फुदकती स्पैरो को बचाना ही चाहिए...बहुत ही प्यारी ड्राइंग!!!!.....:)

Anand Rathore said...

aapki gavraiya to bahut sundar hai... humara raja beta kalakar ban gaya...

डॉ. जेन्नी शबनम said...

गौरैया अब कहीं दिखती ही नहीं. गौरैया को बचाना ही होगा.

Jitendra Gupta said...

is nanhi si chidiya ko main bachpan se dekhta aa raha hun, aur ab ye kam hi dikhti....
bahut padha bhi hai isake bare me, ruskin bond ne bahut kuch likha hai isake baare me..
mujhe bahut hi pasand hai..

vandana said...

एक्सपर्ट होते जा रहे हैं आप तो ....

यशवन्त माथुर (Yashwant Mathur) said...

आज 27/08/2012 को आपकी यह पोस्ट (विभा रानी श्रीवास्तव जी की प्रस्तुति मे ) http://nayi-purani-halchal.blogspot.com पर पर लिंक की गयी हैं.आपके सुझावों का स्वागत है .धन्यवाद!

संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

बहुत सुंदर ... गौरैया सदा चहकती रहे ...

Dr Varsha Singh said...

बहुत ही बेहतरीन रचना......
हार्दिक शुभकामनाएं।

Post a Comment

There was an error in this gadget