चैतन्य शर्मा

My photo
मैं चैतन्य एक बहुत अच्छा बच्चा हूँ | मैं 9 साल का हूँ | मुझे ड्राइंग-कलरिंग करना बहुत पसंद है | मैं क्लास V में पढ़ता हूँ और माँ को कभी परेशान नहीं करता | मुझे डांस करना बेहद पसंद है | स्कूल में मुझे सब बहुत पसंद करते हैं | यह ब्लॉग 5 साल पहले मेरी माँ डॉ. मोनिका शर्मा ने बनाया था । अब मैं खुद अपने पोस्ट ब्लॉग पर शेयर करता हूँ । इस ब्लॉग पर मैं अपनी सारी बातें शेयर करूंगा |

Tuesday, June 26, 2012

Summer Time.... Fun Time

 आजकल मैं जहाँ रह रहा हूँ वहां गर्मी के मौसम का सभी इंतजार करते हैं । अभी वहां समर टाइम आ पहुंचा है । अब कुछ दिन भारी भरकम  ऊनी कपडे भी नहीं पहनने होंगें । मेरी  स्कूल की भी छुट्टियाँ शुरू हो गयी हैं । इस साल मेरा प्रीस्कूल पूरा हो गया । समर वेकेशन के पहले हमारे स्कूल में ग्रेजुएशन पार्टी भी बहुत धूमधाम से हुई । उसकी बात अगली पोस्ट में  :) अभी तो छुट्टियों में  खूब  मस्ती करने की प्लानिंग जारी है । 

आह ....खिली धूप , खुला आसमान 

14 comments:

अजय कुमार झा said...

जय हो बेटा लाल ..एकदम हुड हुड दबंग लग रहे हो इश्मार्टी ..कतल पोज है कतल । जियोह्ह ...खूब मस्ती करो और हां फ़ोटो शोटो खींचते रहना हीरो लाल ।

Shah Nawaz said...

वाह चेतन बेटा... बढ़िया लग रहे हो! क्या टशन है!!!!!!!

Maheshwari kaneri said...

छुट्टियों में खूब मस्ती करो चैतन्य...शुभकामनाएं

अरूण साथी said...

FOOOL>>>>MASTIIIIIIIIII...........COOL>>>>>>>>>

यशवन्त माथुर (Yashwant Mathur) said...

very good Hero :) <3

Reena Maurya said...

बहुत अच्छे दिख रहे हो..
खूब मजे करो....
:-)

Sawai Singh Rajpurohit said...

छुट्टियों में खूब आनंद करो .शुभकामनाओं के साथ...

"रुनझुन" said...

wow !!!! enjoy your holidays...!!

ऋता शेखर मधु said...

खिली हुई धूप बहुत सुहानी है...और आपका मस्ती का मूड भी मस्त है...enjoy yourself CHAITANYA !!!

प्रवीण पाण्डेय said...

छुट्टियों में तो आप पूरे हीरो लग रहे हो..

abhi said...

करो..खूब मस्ती करो छुट्टियों में! :)

अरुण कुमार निगम (mitanigoth2.blogspot.com) said...

खुली धूप नीला आसमान और छुट्टी !!!!
वाह , ऐश करो.................

G.N.SHAW said...

चैतन्य मजे से छुट्टी मनाओ और अनुभव भी बताओ ! इंतजार रहेगा ! शुभकामनाएं !

Surendra shukla" Bhramar"5 said...

मजा है तब तो आप का चैतन्य बाबू हलके फुल्के कभी ऐसे सुहाने मौसम में हम सब को भी बुलाना ....जय श्री राधे
भ्रमर ५
आभार
भ्रमर का दर्द और दर्पण

Post a Comment

There was an error in this gadget