चैतन्य शर्मा

My photo
मैं चैतन्य एक बहुत अच्छा बच्चा हूँ | मैं 12 साल का हूँ | मुझे ड्राइंग-कलरिंग करना बहुत पसंद है | मैं क्लास VIII में पढ़ता हूँ और माँ को कभी परेशान नहीं करता | मुझे डांस करना बेहद पसंद है | स्कूल में मुझे सब बहुत पसंद करते हैं | यह ब्लॉग 10 साल पहले मेरी माँ डॉ. मोनिका शर्मा ने बनाया था । अब मैं खुद अपने पोस्ट ब्लॉग पर शेयर करता हूँ । इस ब्लॉग पर मैं अपनी सारी बातें शेयर करूंगा |

Wednesday, July 24, 2013

बारिश की मस्ती...

मुंबई में जम कर  बरसात हो रही है  | ऐसे  में कोई कब तक खिड़की से झांकता रहेगा | स्कूल आते जाते भी पानी में छप छप करना मना है | यूनिफार्म गीली नहीं कर सकते  ना | पर मैंने माँ को मना ही लिया बरसते पानी में  खेलने के लिए  | माँ के साथ मैंने अपने बिल्डिंग के कम्पाउंड में खूब एन्जॉय किया |















22 comments:

Maheshwari kaneri said...

बारिश मेँ मस्ती का मन तो करता ही है ....शुभकामनाएँ

राजन said...

आपकी ये तस्वीरें देख अब मन तो हमारा भी कर रहा है बारिश में मस्ती करने को पर क्या करें हमारे यहाँ तो अभी थोड़ी सी बारिश हुई फिर धूप खिल गई।

सुज्ञ said...

वाह!! नॉन-स्टॉप मस्ती!!

प्रवीण पाण्डेय said...

आपके दाँत कौन ले गया, हम भी बचपन में खूब खेलते थे पानी में, किसी की नहीं सुनते थे।

Anupama Tripathi said...

वाह मुंबई की बारिश याद आ गई ....!!खूब खेलो और बाद मे अदरक तुलसी की चाय ज़रूर पी लेना ....!!

देवेन्द्र पाण्डेय said...

ऐसे ही सदा.. मस्त रहिए, खुश रहिए।

anshumala said...

पहले ये बताइए की आगे की चार दांतों के लिए टूथ फेरी ने कितने पैसे दिए :)

डॉ. मोनिका शर्मा said...

@ Anshumala ji
एकदम सही बात पूछी है आपने :)
चार कोइन्स मिले हैं अबतक , चार दांत जो चले गए हैं .... ...जिन्हें बड़ा याद करके चुपचाप इसके तकिये के नीचे रखा है हमने....

Dr. Shorya said...

बारिश का मज़ा ही अलग है, खूब खेलो बेटा

ताऊ रामपुरिया said...

बरसात के असली आनंद ले लिये, पर अगले चार दांत चुहिया कब लेगई?:)

रामराम.

स्वप्न मञ्जूषा said...

अले वाह !
बहुत ही प्यारी तसवीरें
हमेशा ऐसे ही खुश रहो

प्रतुल वशिष्ठ said...

प्राकृतिक बाल-छवि जैसी भी हो मनभावक होती है. प्रकृति के साथ खेलता चैतन्य बहुत प्यारा ब्लोगर (बालक) है उसके चाहने वालों में मैं भी तो हूँ. :)

Shalini kaushik said...

very nice

रविकर said...

आपकी उत्कृष्ट प्रस्तुति शुक्रवारीय चर्चा मंच पर ।।

यशवन्त माथुर (Yashwant Raj Bali Mathur) said...

यही तो दिन हैं मजे करने के :)

प्रतिभा सक्सेना said...

सारी हँसी ,टूटे दाँतों से बाहर बिखरी पड़ रही है,अब तो हम भी इसके लपेटे में आ गये!

lori said...

pyare bachce
is baar thode lmbe ho gaye ho
khush raho
-anty Lori

Suresh kumar said...

Jiyo mere laal.....

Vandana Ramasingh said...

wow मजे आ गए चैतन्य आपके तो

G.N.SHAW said...

चैतन्य आप की तस्वीर निराले है , ठीक इस वरसात की तरह | अवसर न खोएं |

K V V S MURTHY said...

Wow...very nice pics ...all the best!

Suman said...

बहुत सुन्दर फोटो बारिश में मस्ती करते हुए !

Post a Comment