चैतन्य शर्मा

My photo
मैं चैतन्य एक बहुत अच्छा बच्चा हूँ | मैं 12 साल का हूँ | मुझे ड्राइंग-कलरिंग करना बहुत पसंद है | मैं क्लास VIII में पढ़ता हूँ और माँ को कभी परेशान नहीं करता | मुझे डांस करना बेहद पसंद है | स्कूल में मुझे सब बहुत पसंद करते हैं | यह ब्लॉग 10 साल पहले मेरी माँ डॉ. मोनिका शर्मा ने बनाया था । अब मैं खुद अपने पोस्ट ब्लॉग पर शेयर करता हूँ । इस ब्लॉग पर मैं अपनी सारी बातें शेयर करूंगा |

Sunday, April 21, 2013

धरती माँ को सहेजना हमारी साझी जिम्मेदारी है

आज के दिन दुनिया भर में विश्व पृथ्वी दिवस मनाया जाता है । पर्यावरण  के प्रति जागरूकता लाने और हमें अपनी जिम्मेदारियों की याद दिलाने के लिए यह दिन मनाया जाता है । पहली बार 1970 में पृथ्वी दिवस मनाया गया । ज़रूरी है कि धरती माँ को सहेजने में हम सब अपनी भागीदारी निभाएं । प्रकृति से सुंदर और कुछ नहीं, हम सब मिलकर इसे सहेजने का संकल्प लें । आज देखिये प्रकृति के कुछ नज़ारे ....


मेरे हाथ में बैठी तितली ...

हरे भरे रहें पेड़-पौधे 


बने रहें धरती के रंग 

सब मिलकर रहें , प्रकृति की गोद में

19 comments:

डॉ. नूतन डिमरी गैरोला- नीति said...

dhnyvaad Chaitanya ..yaad dilayaa ... haa hame iski hariyali ke sadaa tatpar rehnaa hai... sunda drawing aapki .. :)

विभा रानी श्रीवास्तव said...

शुभप्रभात बेटे
शुभकामनायें

वाणी गीत said...

बहुत खूबसूरत चित्र !
शुभाशीष एवं शुभकामनायें !

Ranjana verma said...

हैप्पी पृथ्वी दिवस चैतन्य बेटा .......बहुत बहुत शुभकामना तुम्हें .

Arvind Mishra said...

Beautiful,blessings!

ANULATA RAJ NAIR said...

बहुत सुन्दर चैतन्य....
चैतन्य की पोस्ट से शायद हम चेत जाएँ और धरा को बचाएं..

ढेर सा प्यार और आशीष..
अनु

Shah Nawaz said...

क्या खुबसूरत पेंटिंग्स बनाई हैं... मज़ा आ गया देख कर...

सुज्ञ said...

प्रकृति के प्रति मान बढाते सुंदर चित्र!!

और प्रकृति उपभोग पर संयमित रहना हमारा कर्तव्य!!

Anonymous said...

सुंदर पेंटिंग्स और सार्थक संदेश। ये संदेश बड़ों की समझ में भी आ जाए।

Maheshwari kaneri said...

चित्र में बहुत खूबसूरत भाव.. सार्थक संदेश .बहुत बहुत शुभकामना

ताऊ रामपुरिया said...

सुंदर पेंटिंग के साथ सार्थक संदेश.

रामराम.

Surendra shukla" Bhramar"5 said...

आओ धरती को बचाएं हरे भरे पेड़ लगाएं आनंद आ गया चैतन्य जी ...तितली रानी भी ख़ुशी ...
भ्रमर ५

Shalini kaushik said...

बहुत प्यारी प्रस्तुति बहुत बहुत शुभकामनायें जिम्मेदारी से न भाग-जाग जनता जाग" .महिला ब्लोगर्स के लिए एक नयी सौगात आज ही जुड़ें WOMAN ABOUT MANजाने संविधान में कैसे है संपत्ति का अधिकार-2

Vandana Ramasingh said...

वाह चैतन्य ....नई नई चीजें लाते रहते हैं आप तो

Anupama Tripathi said...

वाह चैतन्य ....सुन्दर बात लिखी है ..
प्यार एवं शुभकामनायें ....

V. Khawani said...

बहुत सुन्दर चित्र है ! और बहुत ही महत्वपूर्ण संदेश :)

abhi said...

bahut achha chaitanya :)

डॉ. मोनिका शर्मा said...

आप सभी का आभार

प्रवीण पाण्डेय said...

धरती अपनी शोभित होगी,
प्यार हमारा आभूषण सा।

Post a Comment