चैतन्य शर्मा

My photo
मैं चैतन्य एक बहुत अच्छा बच्चा हूँ | मैं 12 साल का हूँ | मुझे ड्राइंग-कलरिंग करना बहुत पसंद है | मैं क्लास VIII में पढ़ता हूँ और माँ को कभी परेशान नहीं करता | मुझे डांस करना बेहद पसंद है | स्कूल में मुझे सब बहुत पसंद करते हैं | यह ब्लॉग 10 साल पहले मेरी माँ डॉ. मोनिका शर्मा ने बनाया था । अब मैं खुद अपने पोस्ट ब्लॉग पर शेयर करता हूँ । इस ब्लॉग पर मैं अपनी सारी बातें शेयर करूंगा |

Wednesday, January 18, 2012

छुट्टियाँ ख़त्म, स्कूल शुरू, मौसम का हाल

विंटर वेकेशन ख़त्म, स्कूल और ब्लॉग्गिंग फिर शुरू ।  अबकी बार  अपने देश का यह ट्रिप बहुत अच्छा और मजेदार रहा । मैंने अपनी छुट्टियाँ जयपुर और मुंबई में बिताईं । वैसे इतना  समय घूमने -फिरने, मस्ती करने में बिताने के बाद अब  स्कूल जाने में थोड़ा आलस भी आ रहा है । सबसे ज्यादा बेहाल कर रहा है यहाँ का मौसम । कड़ाके की ठण्ड पड़ रही है । आज का टेम्प्रेचर -35 डिग्री है । सुबह-सुबह स्कूल जाने के लिए पूरी तैयारी  से निकलना पड़ता है । 

मैं ही हूँ.... चैतन्य 

स्कूल के लिए निकला हूँ.....

देखिये ज़रा सुबह का चाँद .....

नन्हे पौधे बड़े परेशान....
पेड़ों का भी बुरा है हाल .... 


 कार या घर में ही आराम  है .....बस ..!  

34 comments:

केवल राम said...

कोई बात नहीं ....यह सब तो चलता रहता है .....आपकी छुट्टियाँ अच्छे से बीतीं यह जानकर बहुत अच्छा लगा . यह बात सही है कि सर्दियों के मौसम में ठण्ड के कारण सुबह आलस बना रहता है ...लेकिन मेरे भाई स्कूल जाना भी तो जरुरी है न ....और हाँ आपको नए साल कि शुभकामनाएं .....देर से ही सही .....!

Unknown said...

आपने तो खूब मज़े किये हैं, बढ़िया है.

Puneet said...

सुबह के समय इतना अँधेरा....तभी तो मैं सोचू रात को कौन सा स्कूल लग रहा है ??

Arun sathi said...

बहुत नीमन लगा सुबह का चांद और तुम, आर्शिवाद।

Unknown said...

चाँद भी बहुत सुन्दत और चैतन्य भी. छुट्टियों में मजे किये बधाई अब स्कूल में भे मजे करो और खूब लिखो

astroshop18 said...

अरे भाई सर्दी से बच के रहना चैतन्य ......

Coral said...

हेल्लो चैतन्य ... बहुत दिनों बड़ा आना हुआ यहाँ तुम्हारा हाल भी चिन्मयी की तरह है ...पर चिन्मयी को इस तरह ढकना पसंद नहीं है पर करे क्या थडी का मामला है ...वो भी अभी विंटर वेकेशन और स्नो का मज़ा ले रही है ....

Anonymous said...

ठण्ड तो काफी हैं चैतन्य ...और आलस तो आता हैं यार कोई नहीं चलता हैं ये सब

यशवन्त माथुर (Yashwant Raj Bali Mathur) said...

अपना ख्याल रखना दोस्त! और हाँ मौसम का मज़ा भी लेते रहो।

यशवन्त माथुर (Yashwant Raj Bali Mathur) said...

कल 20/01/2012 को आपकी यह पोस्ट नयी पुरानी हलचल पर लिंक की जा रही हैं.आपके सुझावों का स्वागत है .
धन्यवाद!

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक' said...

घूम-घूमकर देखिए, अपना चर्चा मंच
लिंक आपका है यहाँ, कोई नहीं प्रपंच।।
--
आपकी इस प्रविष्टी की चर्चा कल शुक्रवार (Friday) के चर्चा मंच पर भी होगी!
सूचनार्थ!

Suresh kumar said...

bahut hi sardi hai bhai .......

vijai Rajbali Mathur said...

ठंड तो इस बार लखनऊ मे भी ज्यादा है। स्कूल जाते वक्त एहतियात करना ही ठीक है। चित्रों के माध्यम से संदेश अच्छा दिया है।

रेखा said...

आपके फोटो देखकर तो मुझे भी ठंड लगने लगे हैं ,अपना ध्यान रखिए..

Shikha Kaushik said...

welcome back in blogging world .we miss you very much .

मेरा मन पंछी सा said...

चैतन्य तुम तो एकदम ढक हि गये हो इन कपडो में..
सर्दी बहूत है अपना ख्याल रखना....

Mukta Dutt said...

School ko bhi chuttiyon ki tarah enjoy karo :)

जयकृष्ण राय तुषार said...

भाई चैतन्य जी मेरा एक शेर है -
खौफ़ का मंजर बदला जाये यह भी मुमकिन है
हाथ का पत्थर बदला जाये यह भी मुमकिन है
मौसम के डर से हम अपने घर का नक्शा क्यों बदलें
मौसम का डर बदला जाये यह भी मुमकिन है

Smart Indian said...

स्कूल तो खुलना ही था। कोई बात नहीं, सर्दी कुछ ही सप्ताह की मेहमान है।

संजय भास्‍कर said...

सर्दी बहूत है अपना ख्याल रखना.

अरुण कुमार निगम (mitanigoth2.blogspot.com) said...

बीत गईं ठण्डी की छुट्टी,लौट के चैतन्य घर को आये

सदा said...

अपना ध्‍यान रखिए ... शुभकामनाएं ।

ऋता शेखर 'मधु' said...

छुट्टियाँ अच्छी बीतीं यह जानकर अच्छा लगा...अब फिर से स्कूल और पढ़ाई और हाँ ब्लॉगिंग भी:)ठण्ड भी तो बहुत है..बच कर रहिए|

Maheshwari kaneri said...

यहाँ भी बहुत ठंड है..लेकिन तुम्हारे वहाँ से कम..ठंड से बचना.. सभी चित्र बहुत सुन्दर हैं..

vidya said...

:-)
सब कुछ सुन्दर.......ठंडा सा...नरम सा...प्यारा सा...

Vandana Ramasingh said...
This comment has been removed by the author.
Vandana Ramasingh said...

सभी फोटो बड़े अच्छे लग रहें हैं और कैसी रहि जयपुर की सकरात

Suman said...

हेलो फ्रेंड .......
मै काफी मिस कर रही थी आपको !
अब फिर से रूटीन शुरू है ना ? कोई बात नहीं !
शुभकामनायें ....चित्र बहुत सुंदर है ...

Patali-The-Village said...

चाँद भी बहुत सुन्दत और चैतन्य भी| आर्शिवाद।

Parthvi said...

-३५ डिग्री सेल्सिय्स तापमान अरे बाबा रे ......

अरुण कुमार निगम (mitanigoth2.blogspot.com) said...

गणतंत्र दिवस की बधाई....

Naveen Mani Tripathi said...

chaitany beta tumko dekh kr to maja aa gaya ......mera bhi mn ap subah ka chand dekhne ke liye aatut hai.

Ayodhya Prasad said...

ye sab to hota hi rahata h dear

मुकेश कुमार सिन्हा said...

chaitanya ki badi pyari si photos..:)

Post a Comment